Sunday, March 3rd, 2024 Login Here
मंदसौर संसदीय क्षेत्र से सुधीर गुप्ता को मिला टिकीट सेवा कार्यो में उत्कृष्ट कार्य को लेकर रेडक्रॉस सोसायटी जिला शाखा मंदसौर को मिला अवार्ड बांछड़ा डेरों पर पुलिस की दबिश, भारी मात्रा में अवैध शराब जप्त प्रतिवेदन पेश नहीं करने पर नपा सीएमओं के खिलाफ पांच हजार का जमानती वारंट जारी सूदखोरों से परेशान होकर की आत्महत्या, पिता के मृत्युभोज के लिए लिया था पैसा मंत्री सारंग ने की वन-टू-वन चर्चा, कहा 6 लाख वोट से भाजपा को जिताने का संकल्प ले लोकसभा चुनाव - भाजपा के 155 उम्मीदवारों की सूची आज घोषित होने की संभावना स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले 200 से अधिक प्रतिनिधि को राष्ट्रीय अवॉर्ड से सम्मानित किया भैरव घाटी पर सड़क हादसा, एक की दर्दनाक मौत दो कारों की आमने-सामने भिडन्त, कॉन्स्टेबल की मौत मानपुरा में ग्रामीण के घर, बाड़े व स्विफ्ट कार से 63 किलो से अधिक अफीम जब्त सुपर पॉवर बनने की दिशा में तीन सेमीकंडक्टर, 1.26 लाख करोड़ के प्लांट को सरकार की मंजूरी 8 महिने बाद खाटु श्याम बाबा के मंदिर में प्रवेश कर भक्तों ने किए दर्शन 15 मिनिट में एक लाख का साउंड सिस्टम चुराने वाला बदमाश सीसीटीवी से पकडाया प्रधानमंत्री ने किया वर्चुअल भूमिपूजन, मंदसौर में 99.14 करोड़ की लागत से 18 महीने में तैयार होगा औद्योगिक पार्क


    मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इन घटनाओं को बेहद दुखदायी बताते हुए मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की है
    मंगलवार (16 अप्रैल) को रात प्रदेश के सभी हिस्सों में तेज हवाओं के साथ बारिश हुई और ओले गिरे थे  

भोपाल. मध्यप्रदेश में तेज हवाओं के साथ बारिश के कारण हुए हादसों और बिजली गिरने के कारण 18 लोगों की मृत्यु हो गयी है। मुख्यमंत्री कमलनाथ ने इन घटनाओं को बेहद दुखदायी बताते हुए मृतकों के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित की है।
उन्होंने पीड़ित परिजनों के प्रति संवेदनाएं प्रकट करते हुए कहा कि संकट की इस घड़ी में राज्य सरकार पीड़ित परिवार के साथ है। राज्य सरकार ने इस प्राकृतिक आपदा से पीड़ित परिजनों को नियमानुसार आर्थिक सहायता देने की घोषणा भी की है।

राजधानी भोपाल के अलावा इंदौर, धार, शाजापुर, सीहोर, उज्जैन, खरगोन, बड़वानी, राजगढ़ और अन्य जिलों में कल देर शाम के बाद तेज हवाओं के साथ बारिश हुयी और अनेक स्थानों पर बिजली भी गिरी। भीषण गर्मी के बाद इस तरह मौसम में आए अचानक बदलाव के कारण इंदौर जिले के हातोद थाना क्षेत्र में बिजली गिरने के कारण एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत हो गयी।

    इंदौर के निवाड़ी गांव में इस घटना की सूचना के बाद कल देर शाम ही पुलिस बल भी मौके पर पहुंचा और तीनों के शव अपने कब्जे में ले लिए। निवाड़ी गांव में तेज हवाओं और बारिश के बीच बिजली गिरी।
    शाजापुर जिले में एक व्यक्ति की कच्चे मकान की छत गिरने के कारण मौत हो गयी। सीहोर जिले में पेड़ गिरने के कारण उसमें दबकर एक व्यक्ति की मौत हो गयी।
    धार जिले के कानवन, कुछी और ढही में क्रमश: एक एक यानी कुल तीन लोगों की मौत बिजली गिरने के कारण हुयी।
    इसके अलावा बिजली गिरने के कारण ही उज्जैन, खरगोन और रतलाम जिले में दो दो तथा अलीराजपुर, राजगढ़, छिंदवाड़ा और श्योपुर जिले में एक एक व्यक्ति की मौत हुई।

अप्रैल के पहले पखवाड़े में ही 42 पार हो गया था तापमान

भोपाल में बताया कि संबंधित जिलों में प्रशासनिक अमला बुधवार को सुबह प्रभावित गांवों में भेजा गया और मृतकों के बारे में अधिकृत जानकारी एकत्रित की गयी है। प्रदेश में इस बार अप्रैल से ही भीषण गर्मी पड़ रही है। तापमान अधिकांश स्थानों पर 42 डिग्री को भी पार गया था, लेकिन कल देर शाम अचानक तेज हवाओं के साथ बारिश होने के कारण अधिकतम और न्यूनतम तापमान में चार से लेकर छह डिग्री तक गिरावट दर्ज की गयी है।

देश के उत्तरी और पश्चिमी हिस्से में कम दबाव का क्षेत्र बनने के कारण मौसम में इस तरह का बदलाव आना बताया जा रहा है। आने वाले एक दो दिनों में भी राज्य में कुछ स्थानों पर हवाओं के साथ बादल गरजने या हल्की बारिश होने की संभावना है।


Chania