Monday, May 10th, 2021 Login Here
निजी क्लिनिक को दोबारा सील करने के विरोध में उतरे नागरिक आपदा में सहारा बन रहे मंदसौर के सेवाभावी व्यक्तित्व जनसारंगी ने किया था आगाह, पुलिस कार्रवाहीं ने लगाई खबर पर मोहर/ अस्पताल से सांसे चुराकर कालाबाजारी में बेच रहे युवक पर रासुका महामृत्युंजय जाप के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे ओर कोरोना महामारी होगी खत्म आपदा में अंतिम सफर के संस्कार का इंतजाम करने आगे आऐ भामाशाह कोरोना का कहर/ आठ दिन में शहर से ढाई गुना मौते ग्रामीण अंचल में हुई ! कोरोना का कहर/ आठ दिन में शहर से ढाई गुना मौते ग्रामीण अंचल में हुई ! भोईवाडा की घटना के बाद मंदसौर में पुलिस का फ्लेग मार्च जावरा विधायक से पंगा और मंदसौर के हिस्सें की आॅक्सीजन रोकना भरी पड़ा कलेक्टर को, विधायक सिसोदिया की सीएम के समक्ष कड़ी आपत्ति के बाद विवाह की खुशी में भूल गए लाॅकडाउन के आदेश/ शादि में मेंहमान बन कर पहुंच गऐ एसडीएम और टीआई बीस दिन लाॅकडाउन के बाद भी कोरोना काबू नहीं हुआ तो अब सीएम के निर्देश के बाद मंदसौर में भी शुरु हुआ सख्ती वाला लॉक डाउन कोरोना के तांडव की हकीकत बयां करती मंदसौर के शमशान की सच्चाई ! कोरोना से जंग में भारतीय जैन संघठना ने नृत्य नाटिका के माध्यम से दिया सकारात्मकता का सन्देश रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर
दशहरे के पर्व पर खानपुरा स्थित दशहरा मैदान पर बुराई के प्रतीक रावण का दहन परंपरागत तरीके से हुआ इससे पहले रावण प्रतिमा की पूजा अर्चना की गई ।दामाद के रूप में दिन भर विभिन्न लोगों ने पूजन अर्चन किया और शाम को बुराई के प्रतीक के रूप में भगवान श्रीराम ने दशानन का वध किया इस दौरान भव्य आतिशबाजी की गई।
प्रतिवर्ष खानपुरा क्षेत्र में स्थित रावण की प्राचीन प्रतिमा पर परंपरागत तरीके से दशानन का वध होता है रावण दहन के लिए भगवान श्री राम लक्ष्मण और हनुमान की सेना सत्संग भवन से ढोल ढमाकों के साथ निकली जो विभिन्न क्षेत्रों से होते हुए खानपुरा रावण दहन स्थल पर पहुंची वहां भगवान श्रीराम ने दशानन का वध किया ।इससे पहले जोरदार तरीके से आतिशबाजी की गई रावण दहन को देखने के लिए खानपुरा और आसपास के क्षेत्रों से बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद थे
Chania