Friday, May 7th, 2021 Login Here
रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर रतलाम के एडवोकेट सुरेश डागर की मृत्यु का मामला गरमाया इंदौर के एडवोकेट ने हाईकोर्ट के आदेश की अवमानना पर जबलपुर उच्च न्यायालय में की याचिका दायर बेटा चाहता था ऐश का जीवन जीने के लिए जमीन बेचना, माॅ ने मना किया तो कर दी हत्या कोविड की मार ने तोड़ी आम लोगों की कमर, बिगाडा मध्यवर्गीय परिवार का बजट योग बना रहा निरोग, कोरोना से जीती जंग आपदा में गायब धरती के भगवान! एक दर्जन डाक्टरों को नोटिस अग्रवाल समाज द्वारा सवा लाख महामृत्युंजय जाप एवं नवचंडी अनुष्ठान हुआ आरंभ अग्रवाल समाज सोमवार से सवा लाख महामृत्युंजय जप एवं नवचंडी अनुष्ठान का आयोजन करेगा लापरवाहीं- कोरोना लेकर बाजार में घूम रहे संक्रमित, चार महिने में नहीं बन पाया सवा दो सौ मीटर का नाला दूकान का शटर बंद लेकिन अंदर मिले ग्राहक हर दिन आॅक्सीजन आने का दावा लेकिन खत्म नहीं हो रहीं मारा-मारी *रजिस्ट्री की गाइड लाइन 30 जून तक यथावत* MP में 1 मई से शुरू नहीं होगा वैक्सीनेशन पार्ट-3:2.5 लाख डोज की पहली खेप 3 मई तक मिली तो 18+ लोगों को 5 मई से लगेगा टीका, 19 हजार लोगों ने कराया रजिस्ट्रेशन सोमली नदी को पार कर मंदसौर की तरफ आगे बढा चंबल का पानी

छावनी में तब्दिल हुआ बेलारा,बदमाश के रिश्तेदारों का अवैध अतिक्रमण जमीजोद
मंदसौर जनसारंगी।

मंदसौर जिले में एक बार फिर अपराधियों के हौसले बुलंद होते दिख रहे हैं वह भी इतने की अब तक आम आदमी पर गोलियां चलती थी लेकिन इस बार तो पुलिस ही गोलियों की शिकार हो गई । सोमवार की सुबह करीब साढ़े 10 बजे  मंदसौर जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम बेलारा में फरार इनामी बदमाश अमजद लाला के आने की सूचना पर सीतामऊ टीआई अमित सोनी उसे पकड़ने के लिए पहुंचे और लाला को ललकारा और उसे पकड़ने के लिए दौड़ लगाई लेकिन तभी अमजद लाला ने अपने पास मौजूद पिस्टल से टीआई पर फायर कर दिया इस दौरान टीआई सोनी की सूझबूझ से गोली उनके सीने के पास से निकल गई  और वे बाल-बाल बच गए हालांकि गोली के झर्रे के निशान उनके चेहरे पर कान के पास बन गए थे। लेकिन गोली चलाने के बाद बदमाश लाला मौके से भाग निकला। इससे पहले बदमाश समीप के एक घर में घूसा और वहां से नगदी और जेवरात छीन कर ले गया। उधर इस घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक सिद्दार्थ चौधरी मौके पर पहुंचे। पूरे जिले भर से पुलिस फोर्स मौके पर भेजा गया और पूरे बेलारा गांव को छावनी में तब्दिल कर दिया गया। घटना के बाद लाला की तलाश में पुलिस पार्टिया निकल पड़ी लेकिन उसका पता नहीं लगा लेकिन पुलिस ने उसके रिश्तेदारों के अवैध अतिक्रमण को ढहाना शुरू कर दिया।
बताया जाता है कि मंदसौर जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र के ग्राम सुरजनी में लाला पठानों का दबदबा है इसमें से अधिकांश मादक पदार्थो की तस्करी,अवैध हथियार की खरीद फरोख्त और लूटपाट में सक्रिय बताए जाते है। यहां अक्सर अपराधी और पुलिसकर्मी भिड़ते रहते है पहले भी सीतामऊ में पदस्थ एक टीआई से मारपीट कर सर्विस रिल्वाल्वर छीनने की घटना हो चूकी है। पिछले कुछ वर्षो में अपराधियों का गढ़ बन चूके मंदसौर जिले में गोली चलना आम बात हो चूकी है लेकिन पिछले कुछ महिनों से क्षेत्र में शांति थी लेकिन अब एक बार फिर अपराधियों के हौसंले बुलंद होते दिख रहे है। जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह  सीतामऊ टीआई अमित सोनी को लिस्टेड बदमाश अमजद लाला के गांव में छिपे होने की खबर मिली इसी आधार पर उन्होंने उसे पकड़ने के लिए घेराबंदी की। इस दौरान उन्होंने अमजद लाला को ललकारा और उसे पकड़ने के लिए भागे लेकिन तभी लाला ने अपने पास  मौजूद पिस्टल से टीआई पर फायर कर दिया।लेकिन उन्होंने सुझबुझ दिखाई जिससे गोली उनके सीने के पास से निकल गई लेकिन गोली के छर्रे की रगड़ उनके कान के पास लग गई। घटना में टीआई सोनी बाल-बाल बच गए लेकिन इस दौरान अमजद लाला गा्रव में ही रहने वाले इमरान के घर में जा घूसा, पुलिस उसे पकड़ पाती उससे पहले ही वह उस घर से नगदी और ज्वेलरी छीन कर भाग निकला। बताया जाता है कि अमजद लाला सीतामऊ थाने का लिस्टेड गुंडा है जिस पर पुलिस अधीक्षक ने इनाम भी घोषित कर रखा है इसके अलावा उस पर रतलाम जिले के ताल थाना क्षेत्र में एमडीएम ड­ग का मामला भी दर्ज है जिसमें भी वह फरार चल रहा है।
उधर गोली चलने की खबर से पूरे जिले की पुलिस सर्तक हो गई। सीतामऊ के आसपास सहित पूरे जिले भर से भारी संख्या में पुलिस बल को मौके पर भेजा गया। देखते ही देखते पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दिल हो गया था ।पुलिस अधीक्षक सिद्दार्थ चौधरी भी घटनास्थल पर पहुंचे और जायजा लिया। इसके साथ ही पुलिस पर फायर कर फरार हुए अमजद लाला की तलाश में भी पुलिस जूट गई तथा उसके तमाम रिश्तेदारों की कुण्डलियों को भी खंगाला गया और शाम होते-होते पुलिस ने रिश्तेदारों के अवैध अतिक्रमण को जमीजोद करना शुरू कर दिया। इसके साथ ही अमजद लाला की तलाश में पुलिस पार्टीया जूटी हुई थी हालांकि देर शाम तक उसके बारे में पुलिस को कोई सुराग हाथ नहीं लग पाया था।
गोली चलने के बाद सरकारी निकली जमीन से ढहाया अतिक्रमण
मंदसौर जिले में कुछ समय ऑपरेशन माफिया चला था जिसमें पुलिस और प्रशासन ने मिलकर कई बदमाशों के अवैध अतिक्रमण को ढहा दिया था लेकिन पिछले कुछ समय से सारी कार्रवाईया ठंडे बस्ते में चली गई जिसके चलते एक बार फिर अपराधियों के हौसले बुलंद होते दिख रहे है। ऑपरेशन माफिया से पहले भी मंदसौर जिले मेंगोलियां चलना आम बात हो गई थी। मंदसौर के प्रथम नागरिक से लेकर कई लोग गोली का शिकार हो चूके है लेकिन फिर भी आज तक सख्त कार्रवाई का इंतजार है। आलम यह है कि जिस अमजद लाला ने पुलिस पर गोली चलाई और भाग निकला उसके रिश्तेदार भी अवैध आशियानों को तानने में पीछे नहीं थे बावजूद इससे पहले तक पुलिस और प्रशासन मूक दर्शक बन कर देख रहे थे। लेकिन अमजद ने पुलिस पर फायर कर भागा तो उसके सारे रिश्तेदारों की कुण्डलियां भी पुलिस के राडार पर आ गई और उन्हें खंगालने के साथ ही शाम तक उन पर कार्रवाई भी शुरू हो गई।  प्रशासन और पुलिस की टीम ने आरोपित के रिश्तेदार के नवनिर्मित दो मंजिला भवन को ढहाने की कार्रवाई की। बताया जा रहा है कि उक्त भवन सरकारी भूमि पर कब्जा कर अवैध रूप से बनाया गया था लेकिन इसी बीच सवाल उठ रहा है कि जब आरोपित के रिश्तेदार ने सरकारी जमीन पर कब्जा किया था और उस पर भवन निर्माण किया था तब आखिर क्यों किसी की भी नजर उस पर नहीं पड़ रहीं थी। जब बदमाश ने पुलिस पर गोली चलाई तभी वह जमीन सरकारी निकली और उस पर कार्रवाई हुई।सीतामऊ एसडीएम बिहारीसिंह ने बताया कि अतिक्रमण मामलें ें नियमानुसार कार्रवाई की जा रहीं हैं। इसके बारे में अन्य जरूरी जानकारियां भी जूटाई जा रहीं है।
केबिनेट मंत्री ने ली जानकारी, विधायक ने किया ट्वीट
बेलारा में हुई घटना को लेकर क्षेत्रिय विधायक और प्रदेश के काबिना मंत्री हरदीपसिंह डंग ने जानकारी ली और ट्वीट के माध्यम से बताया िक बेलारा में हुई घटना को लेकर मेरी अधिकारियों से चर्चा हुई है। अपराधी तत्वों से सख्ती से निपटा जाएगा, पुलिस पर हमला निंदनीय और माफी योग्य नहीं है। नामी एवं गंभीर अपराधों में लिप्त बदमाशों पर कड़ी कार्यवाही को लेकर चर्चा की, क्षेत्र की शांति में खलल डालने वाले तत्व बख्शे नहीं जाए।
उधर गोली चालन के घटनाक्रम को लेकर मंदसौर विधायक यशपालसिंह सिसोदिया ने भी प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा और प्रदेश के पुलिस महानिदेशक को ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा कि रतलाम तथा मंदसौर जिले का आदतन अपराधी अमजद लाला जिस पर ईनाम घोषित है ने मंदसौर जिले के सीतामऊ थाना क्षेत्र के बैलारा गांव में थाना प्रभारी अमीत सोनी पर जानलेवा हमला किया गोली कान को छूते हुई निकल गयी। अपराधी फरार हो गया, पुलिस प्रशासन सख्ती से निपटे।
बदमाश की आर्थिक कमर तोड़ेगें-कलेक्टर
अमजद लाला पहले से ही घोषित ईनामी बदमाश है। इसकी धरपकड़ के लिए पूरे जिले में पुलिस सक्रिय है जल्द ही उसे पकड़ लेगें। इसके अलावा राजस्व अमले को मौके पर भेजा गया है, एसडीएम, तहसीलदार अधिकारी उसकी बैनामी सम्पत्ति के बारे में जानकारी जूटा रहे है । आने वाले एक-दो दिनों में उसकी आर्थिक कमर तोड़ने के लिए सख्त कार्रवाई की जाएगी।
मनोज पुष्प,कलेक्टर
फरार बदमाश को जल्द पकड़ लेगें-एसपी
फरार बदमाश अमजद लाला पर मंदसौर, रतलाम से 15 हजार का ईनाम घोषित है। इसके गांव में छिपे होने की सूचना पर साीतामऊ टीआई अमीत सोनी ने उसकी धरपकड़ के लिए घेराबंदी की थी उसे उन्होंने अपने कब्जे में कर लिया था लेकिन तभी बदमाश और उसके साथियों ने पिस्टल और 12 बोर से फायर किया । इस घटना में टीआई मामूली घायल हुए है और बदमाश को पकड़ने के लिए कार्रवाई की जा रहीं है।
सिद्दार्थ चौधरी, एसपी

Chania