Sunday, August 1st, 2021 Login Here
छापामार कार्रवाहीं में यूरिया की कालाबाजारी करते पकड़े गऐ व्यापारी जहरीले जाम से बही के चैकीदार की भी मौत, एसआईटी पहुंची जांच के लिए एम्बुलेंस स्टेण्ड पर जमाया निजी टैक्सियों ने कब्जा, पुलिस ने हटवाया मंडी में हम्मालों ने कर दी हड़ताल, चर्चा के बाद काम पर लोटे मंगलवार को बादल हुए साफ, ठण्डक रहीं बरकरार जहरीली शराब कांड, एक के बाद एक तीन और मौतों के बाद आंकड़ा पहंुचा 10 पर सावन का पहला सोमवार, शिवमय हुआ पशुपति का शहर लगातार बारिश से शिवना लबालब, शिव के अभिषेक से दूर रह गई मैय्या अब मंदसौर के आसमान पर उडान भर तैयार होंगें पायलट जहरीली शराब से एक और की मौत, चार गंभीर में से एक रेफर महिनों के बजाय सालों में पूरे हुए सेतु में घटिया निर्माण का टांका फिर भी कार्रवाहीं नहीं शराब पीने के बाद तीन की मौत , चार घायल समर्थ गुरु से जुड़े जीवन मे अज्ञानता होगी दूर -आचार्यश्री आस्था के पुष्प से गुरू को नमन, आज से प्रारम्भ होगी शिवशंकर की आराधना साठ साल बाद गांधीसागर झील का लाभ किसानों को, डेढ़ लाख हेक्टेयर में सिंचाई

ट्राली में उपर अच्छा और अंदर हल्का भरकर ले आया, मंडी अधिकारियों ने वापस कराया।
मंदसौर जनसारंगी।
अनलाॅक होने के साथ ही कृषि उपज मंडी में भी निलामी प्रारम्भ हो गई है लेकिन कोरोना को काबू रखने के लिए रोस्टर अनुसार उपज की नीलामी और खुले के बजाय ट्राली के माध्यम से नीलाम की व्यवस्था की गई है लेकिन इसके पहले ही दिन लहसुन किसान ने व्यापारी को ठगने की कोशिश की। ट्राली में उपर अच्छी किस्म की लहसुन भरी और नीचे हल्की लहसुन भर दी ऐसे में व्यापारी ने अच्छा माल देखकर बोली लगा दी लेकिन जब बोली पूरी होने के बाद व्यापारी के गौदाम पर लहसुन खाली हुई तो किसान की इस कारस्तानी का पता लगा। बाद में व्यापारी ने मंडी अधिकारियों को बुलाया, किसान ने भी अपनी गलती को स्वीकर कर लिया और माल को वापस कर दिया गया।
जानकारी के अनुसार मंडी में सुबह लहसुन की नीलामी हुई थी करीब 50 ट्राली लहसुन नीलामी के लिए आई थी। इसी दौरान एक ट्राली में बेहतरीन किस्म की लहसुन देखकर व्यापारी ने उंचे दामों की बोली लगा दी लेकिन नीलामी पूरी होने के बाद जैसे ही लहसुन व्यापारी के गौदाम पर खाली होने के लिए पहुंची तो किसान की कारस्तानी का खुलासा हो गया। ट्राली में उपर अच्छी लहसुन थी लेकिन नीचे हल्की लहसुन को भर दिया गया था ऐसे में व्यापारी ने तत्काल मंडी अधिकारियों को बुलाकर आपत्ति ली और कहा कि उसने दाम अच्छी किस्म की लहसुन को देखकर दिए है ऐसे में वह इस दाम में हल्की लहसुन को नहीं ले सकता है। इसी दौरान किसान ने भी अपनी गलती को स्वीकार करते हुए माना कि मजदूर की गलती की वजह से ऐसा हुआ है। बाद में उसकी नीलामी को निरस्त करते हुए पूरी लहसून को किसान को वापस कर दिया गया।
इनका कहना
नीलाम में उपर अच्छी क्वालिटी थी और नीचे हल्का माल निकला है। व्यापारी ने इसकी शिकायत की इसके बाद जांच की गई, किसान ने अपनी गलती को स्वीकार कर लिया है कि मजदूर ने गलती कर दी होगी। इसके बाद माल को वापस कराया गया।
जगदीश चन्द्र भाभर, मंडी निरीक्षक
नीलामी में खरीदे माल में उपर अच्छा माल था इसी के कारण अच्छे दामों पर उसे खरीदा गया लेकिन जैसे ही ट्राली खाली कराई तो अंदर हल्का माल निकला ऐसे में मंडी अधिकारियों को अवगत कराया, किसान ने भी अपनी गलती को मान लिया और माल को वापस कराया है।
शैलेन्द्र बंब, व्यापारी


Chania